Title- सीने में जलन
Movie/Album- गमन Lyrics-1978
Music By- जयदेव
Lyrics- शहरयार
Singer(s)- सुरेश वाडकर

सीने में जलन, आँखों में तूफ़ान सा क्यों है
इस शहर में हर शख्स परेशान सा क्यों है

दिल है तो, धड़कने का बहाना कोई ढूंढें
पत्थर की तरह बेहिस-ओ-बेजान सा क्यों है
सीने में जलन…

तनहाई की ये कौन सी, मंजिल है रफीकों
ता-हद-ये-नज़र एक बयाबान सा क्यों है
सीने में जलन…

क्या कोई नयी बात नज़र आती है हममें
आईना हमें देख के हैरान सा क्यों है
सीने में जलन…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *