Title~ ये लड़का हाय अल्लाह
Movie/Album~ कभी ख़ुशी कभी ग़म 2001
Music~ जतिन-ललित
Lyrics~ समीर
Singer(s)~ अल्का याग्निक, उदित नारायण

बन्नो की मेहँदी क्या कहना
बन्नो का जोड़ा क्या कहना
बन्नो लगे है फूलों का गहना

बन्नो की आँखें कजरारी
बन्नो लगे सबसे प्यारी
बन्नो पे जाऊँ मैं वारी वारी

बन्नो की सहेली, रेशम की डोरी
छुप-छुप के शरमाये, देखे चोरी-चोरी
ये माने या ना माने, मैं तो इसपे मर गया
ये लड़की हाय अल्लाह
हाय हाय रे अल्लाह
ये लड़की हाय अल्लाह…

बाबुल की गलियाँ ना छड के जाना
पागल दीवाना इसको समझाना
देखो जी देखो ये तो, मेरे पीछे पड़ गया
ये लड़का हाय अल्लाह
हाय हाय रे अल्लाह
ये लड़का हाय अल्लाह…

लब कहें ना कहें, बोलती है नज़र
प्यार नहीं छुपता, यार छुपाने से
रूप घूँघट में हो, तो सुहाना लगे
बात नहीं बनती, यार बताने से
ये दिल की बातें दिल ही जाने, या जाने ख़ुदा
ये लड़की हाय अल्लाह…

माँगने से कभी हाथ मिलता नहीं
जोड़ियाँ बनती हैं पहले से सबकी
ले के बारात घर तेरे आऊँगा मैं
मेरी नहीं ये तो, मर्ज़ी है रब की
अरे जा रे जा, यूँ झूठी-मूठी बातें ना बना
ये लड़का हाय अल्लाह…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *